टी-20 विश्व कप: बांग्लादेश की हार के बाद तौहीद हृदोय ने की अंपायरिंग की आलोचना

Pinky Singh - 6/11/2024 12:58:50 PM -




न्यूयॉर्क । बांग्लादेश के बल्लेबाज तौहीद हृदोय ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैच के दौरान अंपायरिंग के स्तर की आलोचना की और उनका मानना है कि उन्हें सोमवार को न्यूयॉर्क के नासाउ काउंटी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में इसकी कीमत चुकानी पड़ी।



17वें ओवर में रन चेज के दौरान ओटनील बार्टमैन की एक गेंद महमुदुल्लाह के पैड से टकराई और फाइन लेग की गेंद बाउंड्री लाइन के पार चली गई। दक्षिण अफ्रीका ने एलबीडब्लू की अपील की और अंपायर ने अपनी उंगली उठा दी। रिव्यू पर, निर्णय पलट दिया गया लेकिन चूंकि अंपायर ने मैदान पर आउट दे दिया था, इसलिए गेंद को तुरंत डेड मान लिया गया, जिससे बांग्लादेश को चार रन नहीं मिल पाए। अंत में, एशियाई टीम उसी अंतर से हार गई।

हृदोय ने मैच के बाद संवाददाताओं से कहा, "ईमानदारी से कहूं तो इतने कड़े मुकाबले में यह हमारे लिए अच्छा फैसला नहीं था। मेरे हिसाब से, अंपायर ने आउट दिया, लेकिन यह हमारे लिए काफी कठिन था। उन चार रनों से मैच का परिदृश्य बदल सकता था।"

उन्होंने कहा, "कानून मेरे हाथ में नहीं है। उस समय वे चार रन वाकई महत्वपूर्ण थे। अंपायर फैसला ले सकते हैं और वे भी इंसान हैं और गलतियाँ कर सकते हैं। उन्होंने कुछ मौकों पर वाइड भी नहीं दिए जो वाइड थे। इस तरह के मैदान में जहाँ कम स्कोर वाले मैच हो रहे हैं, एक या दो रन बहुत बड़ी बात है। मुझे लगता है कि वे चार रन या दो वाइड करीबी फैसले थे। इसमें सुधार की गुंजाइश है।"

34 गेंदों पर 37 रन बनाने वाले ह्रदोय को कैगिसो रबाडा की गेंद पर एलबीडब्लू आउट दिया गया, जहाँ रीप्ले से पता चला कि गेंद लेग स्टंप को छू रही थी।

हृदोय ने कहा, "वास्तव में हम उस स्कोर को लेकर काफी आश्वस्त थे और उस स्थिति से मुझे मैच समाप्त कर देना चाहिए था। नए बल्लेबाज के लिए परिस्थितियों के अनुसार ढलना कठिन होता है। उस स्थिति में मुझे मैच समाप्त करना चाहिए था।"